कोविड-19 : पी.एम. मोदी ने दिया ‘जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं’ का मंत्र

हरियाणा , 9 अक्टूबर (निजी पत्र प्रेरक )

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगामी त्यौहारों और ठंड के मौसम के मद्देनजर वीरवार को कोविड-19 से निपटने के लिए लोगों को ‘जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं’ का मंत्र देते हुए ट्विटर पर एक ‘जन आंदोलन’ की शुरुआत की। उन्होंने लोगों से कोरोना संक्रमण के खिलाफ संघर्ष में एकजुट होने की अपील करते हुए कहा कि जब तक कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कोई टीका नहीं बन जाता तब तक उन्हें हर सावधानी बरतनी है और तनिक भी ढिलाई नहीं करनी है।

उन्होंने हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में ट्वीट कर कहा, ‘आइए, कोरोना से लड़ने के लिए एकजुट हों! हमेशा याद रखें: मास्क जरूर पहनें। हाथ साफ करते रहें। सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करें। गज की दूरी’ रखें।’ उन्होंने कहा, ‘जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं।’ मोदी ने कोरोना वायरस से बचाव संबंधी संदेशों के साथ तस्वीरें भी साझा कीं।

इनमें वह मास्क के बजाय गमछा बांधे हुए हैं और हाथ जोड़कर लोगों से बचाव का आग्रह करते दिख रहे हैं। अभियान को धार देने के लिए उन्होंने ‘यूनाइट टू फाइट कोरोना’ हैशटैग का भी उपयोग किया। कुछ ही घंटों बाद यह हैशटैग टॉप 5 में ट्रेंड करने लगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सब मिलकर कोरोना वायरस के खिलाफ सफलता हासिल करेंगे और इस लड़ाई को जीतेंगे। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई लोगों द्वारा लड़ी जा रही है जिसे कोरोना योद्धाओं से मजबूती मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *